Home History दुनिया के सात अजूबे। Seven Wonders of the World in Hindi

दुनिया के सात अजूबे। Seven Wonders of the World in Hindi

दुनिया के सात अजूबे। Seven Wonders of the World in Hindi

दोस्तों आज हम इस लेख में जानने वाले हैं दुनिया के सात अजूबे। Seven Wonders of the World in Hindi के बारे में तो आइये जानते हैं ।   दुनिया के सात अजूबे कौन से हैं? सात अजूबों के नाम और इतिहास | 

दुनिया के 7 अजूबे: दुनिया में ऐसी कई चीजें हैं, जिनकी खूबसूरती और इत्तिहास लाजवाब और unimaginable  है। इन चीजों का इतिहास भी रोमांचकारी है। दुनिया के सात अजूबे कला के ऐसे अद्भुत कार्यों में से एक हैं। भारत में ताजमहल को दुनिया के सात अजूबों में भी शामिल किया गया है।

 

आज के लेख में हम दुनिया के सात अजूबे क्या हैं और उनका इतिहास – सात अजूबों की तस्वीरों के साथ हिंदी में दुनिया के 7 अजूबे क्या हैं, इसकी जानकारी प्राप्त करेंगे।

 

ये हैं दुनिया के सात अजूबे:

  1. रोमन कालीज़ीयम
  2. चीन की दीवार
  3. माचू पिचू
  4. क्राइस्ट द रिडीमर
  5. ताजमहल
  6. पेट्रा

 

विश्व के सात अजूबों का इतिहास |

रोमन कालीज़ीयम

रोमन कालीज़ीयम रोम, इटली के मध्य में स्थित है। यह एक विशाल स्टेडियम है जहां प्राचीन काल में जानवरों की लड़ाई, कुश्ती, सांस्कृतिक कार्यक्रम और खेल आयोजित किए जाते थे। इसे तत्कालीन शासक वेस्पियन ने 70 से 72 ईसा पूर्व में बनवाया था।

दुनिया के सात अजूबे।

रोमन कालीज़ीयम एक अंडाकार आकार की संरचना है। इसकी भव्यता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि यह सिर्फ रेत और कंक्रीट से बना है और इसमें एक बार में 50,000 लोग बैठ सकते हैं। प्राकृतिक आपदाओं और भूकंपों ने रोमन कालीज़ीयम को कुछ हद तक नष्ट कर दिया है, लेकिन इसकी विशालता और भव्यता अभी भी अमर है।

 

चीन की दीवार – Great Wall of China

चीन की महान दीवार दुनिया भर में जानी जाती है। यह दीवार 7वीं और 16वीं सदी के बीच बनाई गई थी। इस भव्य दीवार के निर्माण में मिट्टी, पत्थर, ईंट, लकड़ी आदि का प्रयोग किया गया है। चीन में विभिन्न राज्यों के शासकों द्वारा उत्तर से आक्रमणकारियों को रोकने के लिए दीवार बनाई गई  थी।

दुनिया के सात अजूबे।

यह दीवार इतनी विशाल है कि इसे अंतरिक्ष से भी देखा जा सकता है। दीवार 6400 किमी लंबी और 35 फीट ऊंची है। और यह दीवार इतनी चौड़ी है कि 10-15 लोग आराम से चल सकते हैं। कहा जाता है कि इस दीवार को बनाने में 20 से 30 मिलियन लोगों ने अपनी पूरी जिंदगी लगा दी थी।

 

चीचेन इट्ज़ा-Chichén Itzá

दुनिया के सात अजूबों में चिचेन इट्ज़ा भी है, जो मेक्सिको का सबसे प्राचीन और विश्व प्रसिद्ध archaeological site में से एक  है। इसे 600 ईसा पूर्व में बनाया गया था। चिचेन इट्ज़ा मेक्सिको के सबसे पुराने archaeological site  में से एक है। चिचेन इट्ज़ा पांच किलोमीटर की दूरी में फैला हुआ है। इसका आकार पिरामिड जैसा है। और इसकी  की ऊंचाई 79 फीट है। चिचेन इट्ज़ा पर चढ़ने के लिए 365 सीढ़ियाँ हैं, जो साल के 365 दिनों का प्रतीक है।

दुनिया के सात अजूबे।

चिचेन इट्ज़ा, युकाटन राज्य में कैनकन के पश्चिम में 200 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है और मेक्सिको की सबसे अच्छी तरह से संरक्षित पुरातात्विक स्थलों में से एक है। इट्ज़ा उस जातीय-वंशवादी समुदाय का नाम है जिसने स्पैनिश विजय से पहले मेक्सिको के उत्तरी प्रायद्वीप पर शासन किया था। चिचेन इट्ज़ा नाम का अर्थ है कुएँ का किनारा। हर साल लगभग 1.2 मिलियन लोग चिचेन इट्ज़ा पर्यटन स्थल की यात्रा करते हैं। दुनिया के 7 अजूबों की लिस्ट में चिचेन इट्ज़ा का नाम आता है।

  • चिचेन इट्ज़ा की खोज पादरी लकिन चान ने 514 ई. में की थी।
  • यहां स्थित कुकुलन का पिरामिड माया संस्कृति का सबसे प्रसिद्ध प्रतीक है। इस पिरामिड की ऊंचाई 30 मीटर है।
  • सबसे विशेष रूप से, चिचेन इट्ज़ा 1,000 से अधिक वर्षों से तीर्थयात्रा का केंद्र रहा है।
  • चिचेन इट्ज़ा को चिचेन विएजो और चिचेन नुएवो नामक विभिन्न क्षेत्रों में विभाजित किया गया है।
  • Chichén Viejo का निर्माण लगभग 400 AD में किया गया था।
  • मेनप के शासक हुनक छील ने 13वीं शताब्दी में चिचेन इट्ज़ा पर विजय प्राप्त की थी ।
  • चिचेन इट्ज़ा पर चढ़ने के लिए 365 सीढ़ियाँ हैं, जो साल के 365 दिनों का प्रतीक है।
  • 2006 तक, पर्यटकों को एल कैस्टिलो पर चढ़ने की अनुमति थी। इसकी ऊंचाई 24 मीटर है और इसमें नौ स्तर हैं।
  • इसकी सुंदरता, भव्यता, सुंदर वास्तुकला और पवित्र तालाबों को देखने के लिए हर साल लाखों पर्यटक चिचेन इट्ज़ा जाते हैं, जो इसे दुनिया के सात अजूबों में से एक बनाता है।

 

माचू पिच्चू – Machu Picchu

माचू पिच्चू दक्षिण अमेरिका के पेरू में स्थित एक ऐतिहासिक शहर है। शहर एक ऊँची और नीची पहाड़ी पर स्थित है। समुद्र तल से 2430 मीटर की ऊंचाई पर स्थित माचू पिच्चू शहर में 15वीं शताब्दी में इंका लोगों का निवास था। यह आश्चर्यजनक है कि इतनी ऊंचाई पर एक शहर कैसे बनाया जा सकता है और लोग इतनी ऊंचाई पर कैसे रह सकते हैं।

दुनिया के सात अजूबे।

इस शहर का निर्माण राजा पचकुटी ने करवाया था। लेकिन 100 साल बाद स्पेन ने इस शहर को जीत लिया। और जीत के बाद शहर छोड़ दिया। इसके बाद यहां की सभ्यता धीरे-धीरे नष्ट हो गई। इस शहर की खोज 1911 में प्रसिद्ध अमेरिकी इतिहासकार हीराम बिंघम ने की थी और इस खूबसूरत और ऐतिहासिक शहर को दुनिया के सामने लाया।

 

उद्धारक येशु – Christ the Redeemer

क्राइस्ट द रिडीमर के नाम से जाना जाने वाला यह आश्चर्य प्रभु यीशु मसीह की एक छवि है। दुनिया के सात अजूबों में शामिल यह तस्वीर दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमाओं में से एक है। ब्राजील के रियो डी जनेरियो में स्थित जीसस क्राइस्ट की प्रतिमा 38 मीटर ऊंची और 30 मीटर चौड़ी है।

दुनिया के सात अजूबे।

इस मूर्ति का वजन 635 टन माना जाता है। ईसा मसीह की यह छवि 1922 और 1931 के बीच बनाई गई थी। इस मूर्ति का निर्माण महान फ्रांसीसी मूर्तिकार लेंडोव्स्की ने किया था। आज यह प्रतिमा रियो शहर से 700 मीटर ऊपर माउंट कोरकोवाडो पर स्थित है।

 

ताज महल – Taj Mahal

भारत का भव्य ताजमहल आगरा शहर में स्थित है। ताजमहल को दुनिया के सात अजूबों में शुमार किया गया है। ताजमहल को मुगल बादशाह शाहजहां ने अपनी पत्नी मुमताज बेगम की याद में 1632 ई. में बनवाया था। ताजमहल सफेद संगमरमर से बना महल है।

दुनिया के सात अजूबे।

ताजमहल को प्यार के प्रतीक के रूप में जाना जाता है। यह एक खूबसूरत बगीचे और पानी के छेद से घिरा हुआ है। ताजमहल जैसी कलाकृतियां दुनिया में कहीं नहीं मिलती हैं। ताजमहल को बनने में करीब 15 साल का समय लगा था। ऐसा माना जाता है कि ताजमहल के पूरा होने के बाद मुगल बादशाह शाहजहाँ ने सभी निर्माण श्रमिकों के हाथ काट दिए थे।

 

ताजमहल भारत की शान है और इसकी सुंदरता का अनुभव करने के लिए हर साल दुनिया भर से लाखों पर्यटक भारत आते हैं।

 

पेट्रा – Petra  

पेट्रा दक्षिण जॉर्डन में स्थित एक ऐतिहासिक शहर है। कला के अद्भुत कार्यों के कारण यह शहर दुनिया के 7 अजूबों में से एक है। इस शहर में बड़ी-बड़ी चट्टानों को काटा गया है और उनसे कला का निर्माण किया गया है। इस शहर को रोज सिटी भी कहा जाता है। क्योंकि यहां काटे गए सभी पत्थर लाल हैं।

 

जॉर्डन में पेट्रा मुख्य आकर्षण है। यहां हर साल काफी संख्या में पर्यटक आते हैं। पेटला में विशाल मंदिर, झील सभी प्रमुख आकर्षण हैं।

 

तो दोस्तों यह थे  दुनिया के 7 अजूबे, यानी दुनिया के सात अजूबे और उनकी जानकारी और इतिहास। हमें उम्मीद है कि आप को यह जानकारी अच्छी लगी होगी तो अपने दोस्तों को भी शेयर करें और कमेंट में बताये ।  धन्यवाद …


यह भी पढ़ें ।

भारतीय रेलवे के बारे में 18 रोचक तथ्य तनिष्क का मालिक कौन है
Ola कैसे पैसे कमाता है। Ola Business Model In Hindi दुनिया के 5 सबसे छोटे देश
दुनिया की सबसे पुरानी भाषा दुनिया का सबसे ताकतवर देश कौन है? 2021
दुनिया के सात अजूबे    
01
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments

href="https://www.thegoldenmart.com/classified">which is the best electric car in india 2021 on पेपर प्लेट बनाने का बिजनेस कैसे शुरु करें।