Home Information Education Ph.D क्या है? Ph.D ki Tayyari Kaise karen

Ph.D क्या है? Ph.D ki Tayyari Kaise karen

Ph.D क्या है? Ph.D ki Tayyari Kaise karen

दोस्तों आज हम इस आर्टिकल में बात करने वाले  हैं कि Ph.D क्या है? Ph.D ki Tayyari Kaise karen:  हिंदी में पीएचडी का फुल फॉर्म क्या होता है? पीएचडी करने के लिए क्या योग्यता है? पीएचडी के लिए प्रवेश प्रक्रिया क्या है? PHD में कौन से सब्जेक्ट लिए जाते हैं? Ph.D करने के बाद आपको नौकरी के अवसर कहाँ से मिलते हैं? हम यह सब जानने जा रहे हैं। सीधे शब्दों में कहें तो पीएचडी एक ऐसी डिग्री है जिसकी शिक्षा के क्षेत्र में काफी मांग है। Ph.Dक्या है? Ph.D kiTayyariKaisekaren

लेकिन अगर आप PHD के बारे में ज्यादा नहीं जानते हैं तो चिंता न करें, दोस्तों हम इस आर्टिकल में PHD के बारे में बहुत कुछ जानेंगे। उसके लिए मैं चाहता हूं कि आप इस लेख को अंत तक ध्यान से पढ़ें।

आइए जानें PHD का हिंदी  में क्या मतलब होता है।

हम अक्सर देखते हैं कि हमारे आस-पास कुछ लोगों के पास Ph.D की डिग्री है। तो पीएचडी वास्तव में क्या है? और पीएचडी इतना महत्वपूर्ण क्यों है? यही अब हम जानने जा रहे हैं।

दोस्तों Ph.D एक बहुत ही महत्वपूर्ण और सम्मानजनक डिग्री है। यह डिग्री पोस्ट ग्रेजुएशन के बाद की जा सकती है। इस डिग्री को करने के बाद हम अपने नाम के आगे डॉक्टर लिख सकते हैं। इस डिग्री को विषय वस्तु विशेषज्ञ भी कहा जाता है।

  • पीएचडी कोर्स 3 से 6 साल में पूरा किया जा सकता है। साथ ही किसी भी विषय में PHD किया जा सकता है.
  • PHD करने के बाद आपको बहुत सम्मान मिलता है और PHD करने के बाद आपको अच्छे और लीडिंग जॉब के अवसर भी मिलते है।

Ph.D का फुल फॉर्म हिंदी में/ P.hD Meaning in  hindi 

अब हम हिंदी में Ph.D का फुल फॉर्म जानेंगे ।

  • अंग्रेजी में पीएचडी का फुल फॉर्म “Doctor of Philosophy” है।
  • और हिंदी में भी पीएचडी को “Doctor of Philosophy” ही कहा जाता है।

PHD करने के लिए बहुत मेहनत करनी पड़ती है। यह डिग्री हासिल करना बहुत मुश्किल है। और इसी लिए यह डिग्री इतनी महत्वपूर्ण है।

कौन कर सकता है Ph.D? पीएचडी करने के लिए क्या योग्यता है?

कुछ खास लोग ही PHD कर सकते हैं। इसका मतलब है कि पीएचडी करने के लिए आपके पास कुछ योग्यताएं होनी चाहिए। तो चलिए अब जानते हैं पीएचडी के लिए जरूरी योग्यताएं।

  • पीएचडी करने के लिए पोस्ट ग्रेजुएशन कम्पलीट होना चाहिए।
  • पोस्ट ग्रेजुएशन में 60% से अधिक अंक होने चाहिए। साथ ही आरक्षित वर्ग में 55% अंक आवश्यक हैं।
  • पीएचडी करने वाले उम्मीदवार की उम्र 55 साल से ज्यादा नहीं होनी चाहिए।
  • आप पीएचडी के लिए कॉलेज के अनुसार प्री-एंट्रेंस एग्जाम (NEET) देकर अपनी पसंद का कॉलेज चुन सकते हैं।
  • एक बार प्रवेश की पुष्टि हो जाने के बाद आप पीएचडी के लिए विषय चुन सकते हैं।

पीएचडी कैसे करें? पीएचडी के लिए प्रवेश प्रक्रिया क्या है?

हमने ऊपर देखा है कि पीएचडी के लिए अर्हता प्राप्त करने के लिए क्या करना पड़ता है। यदि आपके पास बताई गई योग्यताएं हैं, तो आइए अब जानें कि पीएचडी में प्रवेश कैसे प्राप्त करें।

Ph.D करने का एक बहुत ही आसान तरीका है।

दोस्तों पीएचडी करने के लिए पोस्ट ग्रेजुएशन पूरा करने के बाद आपको एक अच्छा कॉलेज या यूनिवर्सिटी पाने के लिए नीट (National Eligibility Entrance Test) पास करना होता है। नीट परीक्षा साल में दो बार आयोजित की जाती है।

साथ ही अगर आप इंजीनियरिंग से पीएचडी करने की सोच रहे हैं तो आपको अच्छे अंकों के साथ GATE (Graduate Aptitude Test in Engineering) पास करना होगा।

इस प्री-एग्जाम को देने के बाद आप अपनी पसंद के अनुसार पीएचडी के लिए कॉलेज और यूनिवर्सिटी का चुनाव कर सकते हैं। लेकिन अगर आप अच्छे अंक प्राप्त करते हैं, तो आप सबसे अच्छा कॉलेज भी प्राप्त कर सकते हैं

Ph.D में कौन से सब्जेक्ट लिए जाते हैं?

दोस्तों पीएचडी में निम्न टॉपिक ज्यादातर लिए जाते हैं। इन विषयों में पीएचडी करने के बाद नौकरी के बहुत अच्छे और उच्च वेतन वाले अवसर हैं।

  • केमिकल इंजीनियरिंग में पीएचडी/PhD in Chemical Engineering
  • फार्माकोलॉजी में पीएचडी/PhD in Pharmacology
  • इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में पीएचडी/PhD in Electrical Engineering
  • बायोमेडिकल इंजीनियरिंग में पीएचडी/PhD in Biomedical Engineering
  • भौतिकी में पीएचडी/PhD in Physics
  • इंजीनियरिंग में पीएचडी/PhD in Engineering
  • भौतिक रसायन विज्ञान में पीएचडी/PhD in Physical Chemistry
  • सांख्यिकी में पीएचडी/PhD in Statistics
  • कंप्यूटर विज्ञान में पीएचडी/PhD in Computer Science
  • कार्बनिक रसायन विज्ञान में पीएचडी/PhD in Organic Chemistry

तो दोस्तों अगर आप ऊपर दिए गए किसी भी विषय में पीएचडी करना चाहते हैं तो आप इनमें से किसी एक विषय को बिना किसी झिझक के चुन सकते हैं।

पीएचडी की डिग्री हासिल करने में कितना खर्च आता है?

दोस्तों हमारे मन में हमेशा यह सवाल रहता है कि किसी भी कोर्स या किसी भी शिक्षा को लेने में कितना खर्चा आएगा।

आइए अब इसके बारे में और जानें।

  • दोस्तों पीएचडी करने के लिए आपके लिए प्राइवेट और सरकारी कॉलेज उपलब्ध हैं। अगर आप किसी सरकारी कॉलेज से पीएचडी करने की सोच रहे हैं तो इसमें आपको 20,000 रुपये से लेकर 25,000 रुपये प्रति वर्ष खर्च करना पड़ सकता है। साथ ही PHD करते समय आपको 30,000 रुपये प्रति माह स्टाइपेंड के रूप में दिए जाते हैं।
  • यह वजीफा आपके कॉलेज के खर्च और अन्य खर्चों को कवर कर सकता है।
  • साथ ही अगर आप किसी प्राइवेट कॉलेज या प्राइवेट यूनिवर्सिटी से पीएचडी करने की सोच रहे हैं तो इसकी लगत  सरकारी कॉलेज से ज्यादा है। प्रत्येक निजी कॉलेज की लागत अलग अलग हो सकती है। हालांकि, लागत आमतौर पर प्रति वर्ष लगभग 50,000 रुपये से 2 लाख रुपये है।
  • साथ ही निजी कॉलेजों में दिया जाने वाला वजीफा भी अलग है।

PHD करने के लिए सबसे अच्छा कॉलेज कौन सा है?

भारत में पीएचडी करने के लिए कई कॉलेज और यूनिवर्सिटी मौजूद हैं आइए जानते हैं सबसे अच्छे और मशहूर कॉलेजों के बारे में।

भारत में पीएचडी के लिए कॉलेज / विश्वविद्यालय निम्नलिखित हैं:

  • भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, दिल्ली/Indian Institute of Technology, Delhi
  • भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, कानपुर/Indian Institute of Technology, Kanpur
  • सावित्रीबाई फुले पुणे विश्वविद्यालय, पुणे/Savitribai Phule Pune University, Pune
  • भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, रुड़की/Indian Institute of Technology, Roorkee
  • भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, मद्रास/Indian Institute of Technology, Madras
  • भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, खड़गपुर/Indian Institute of Technology, Kharagpur
  • महाराज सयाजीराव विश्वविद्यालय, बड़ौदा/Maharaj Sayajirao University, Baroda
  • पंजाब विश्वविद्यालय/Panjab University
  • अमृता विश्वविद्यालय/Amrita University
  • समिति विश्वविद्यालय/Samiti University

इन सभी उपरोक्त कॉलेजों के अलावा भारत में कई कॉलेज हैं। आप वहां से भी अपनी PhD पूरी कर सकते हैं।

PHD करने के बाद आपको नौकरी के अवसर कहाँ से मिलते हैं?

PHD करने का मुख्य उद्देश्य अच्छी नौकरी पाना होता है। पीएचडी करने के बाद कई क्षेत्रों में नौकरी के अच्छे अवसर हैं। साथ ही PHD करने के बाद आपको ज्यादा सैलरी वाली जॉब मिल सकती है।

पीएचडी करने के बाद स्नातक निम्नलिखित क्षेत्रों में काम करना पसंद करते हैं।

  • अनुसंधान/Research
  • बैंकिंग-बैंकिंग/banking banking
  • कानून/Law
  • लेखक/Author
  • पत्रकार/Journalist
  • उपरोक्त सभी क्षेत्रों में नौकरी के बहुत अच्छे अवसर उपलब्ध हैं।

निष्कर्ष

तो दोस्तों अपने समझ लिया होगा की हिंदी में पीएचडी का फुल फॉर्म क्या होता है? पीएचडी कब कर सकते हैं? पीएचडी करने के लिए क्या योग्यता है? पीएचडी के लिए प्रवेश प्रक्रिया क्या है? PHD में कौन से सब्जेक्ट लिए जाते हैं? PHD करने के बाद आपको नौकरी के अवसर कहाँ से मिलते हैं?

दोस्तों मुझे उम्मीद है कि मैंने जो जानकारियां दी है वह आपके काम आएगी। यदि आप इस लेख में मेरे द्वारा प्रदान की गई जानकारी से अधिक जानकारी चाहते हैं, तो कृपया हमें comments में बताएं।

हमें यह भी बताएं कि इस लेख में दी गई जानकारी के बारे में आपकी क्या comments हैं और इस लेख को दूसरों के साथ साझा करना न भूलें।

यह भी पढ़ें :

SSC क्या है? SSC kya hai?
Ola कैसे पैसे कमाता है। Ola Business Model In Hindi
Google क्या है और इसके संस्थापक कौन हैं । 
Bulk SMS Kya Hai – Bulk SMS का उपयोग कैसे करें?
Desktop और Laptop में अंतर क्या है?
https://hi.wikipedia.org/wiki/%E0%A4%AA%E0%A5%80%E0%A4%8F%E0%A4%9A%E0%A4%A1%E0%A5%80

 

 

 

01
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments

href="https://www.thegoldenmart.com/classified">which is the best electric car in india 2021 on पेपर प्लेट बनाने का बिजनेस कैसे शुरु करें।