Home Health गर्मी से बचने के घरेलू उपाय ।

गर्मी से बचने के घरेलू उपाय ।

गर्मी से बचने के घरेलू उपाय ।

हेल्थ डेस्क: दोस्तों आज के इस लेख में हम जानेंगे गर्मी से बचने के घरेलू उपाय । के बारे में , चिकित्सा विशेषज्ञों ने कहा है कि चिलचिलाती गर्मी में बीमारियां फैलने का खतरा है, पेट की बीमारियां आम हैं, पोल्ट्री खाद्य पदार्थों से बचें और फलों, सब्जियों, पानी और शीतल पेय का सेवन बढ़ाकर बीमारियों को रोका जा सकता है। चिकित्सा विशेषज्ञों का कहना है कि साधारण खाद्य पदार्थ अत्यधिक गर्मी में पेट की बीमारियों को रोक सकते हैं

गर्मी से बचने के लिए क्या खाना चाहिए ।

गर्मी में मौसमी फल और हरी सब्जियां ज्यादा से ज्यादा खाएं।  गर्म मौसम में पेट की बीमारियां जिनमें डायरिया, उल्टी, पेट में दर्द, पेट में दर्द, हाथ प्रभावित लोग बड़ी संख्या में अस्पताल आते हैं, युवा और बच्चे, फ्रिटर, समोसा, वे बर्गर और चिकना खाद्य पदार्थों के लिए अधिक प्रवण हैं जो उन्हें इन रोगों के लिए अतिसंवेदनशील बनाते हैं।

  • लिक्विड ज्यादा लें इस मौसम में लिक्विट डाइट बढ़ा देना चाहिए। छाछ,
  • लस्सी, नीबू पानी, नारियल पानी को डाइट में शामिल करें। …
  • फल, सब्जि और पानी का अधिक से अधिक सेवन  करें ।

चिलचिलाती गर्मी में चिकनाई युक्त भोजन और पेय पदार्थों से बचकर फलों, सब्जियों, कोल्ड ड्रिंक्स और पानी का अधिक से अधिक सेवन करना चाहिए। अत्यधिक गर्मी में हीट स्ट्रोक का खतरा होता है, जिसमें प्रभावित व्यक्ति को पसीना और चक्कर आने लगते हैं।

अत्यधिक गर्मी से बचने के लिए 11 से 5 बजे तक अनावश्यक रूप से तेज धूप में बाहर नहीं जाना चाहिए। यदि आवश्यक हो, तो अपने सिर को कवर करें और बाहर जाएं। सादे पानी में ORS मिलकर पी  जाएँ । रोगी के शरीर का तापमान बढ़ जाता है। यदि हां, तो उसे तुरंत छायादार स्थान पर ले जाएं।

चट पटी खाद्य पदार्थों का सेवन कम करें।

गर्म मौसम के दौरान खाने-पीने में अधिक सावधानी बरतने की आवश्यकता होती है और पोल्ट्री और चिट-पटी खाद्य पदार्थों का सेवन कम करना चाहिए क्योंकि ये पेट की अम्लता का कारण बन सकते हैं।

अत्यधिक गर्मी में बहुत अधिक फ़ास्ट फ़ूड  खाने से पेट खराब हो सकता है। स्टालों पर बिकने वाले घटिया खाद्य पदार्थों को खाने से बचें।

चिलचिलाती धुप में बाहर कैसे जाएं?

मौसम के बदलाव के साथ गले, नाक और कान के रोग बढ़ जाते हैं, गले में खराश, सर्दी और फ्लू होता है, जिसके कारण सुरक्षित रहने के लिए हल्के भोजन का उपयोग किया जाता है। अपने सिर पर रूमाल के साथ चिलचिलाती गर्मी में बाहर जाएं।

गर्मियों के मौसम ज्यादा ताली हुई चीज़ें या फिर ज्यादा मसालेदार खाना हमारे body  पर खतरनाक असर डालता है. इस तरह का खाना हमारे पाचन शक्ति को खराब कर देता है. जिससे आपको कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है.

आप फूड पॉयजनिंग के शिकार भी हो सकते हैं. गर्मियों में खाना हल्का व आसानी से पचने वाला होना चाहिए ।इस मौसम में हमारे शरीर को पानी की सबसे ज्यादा जरूरत होती है ऐसे में हमेशा अपने साथ पानी की बोतल रखनी चाहिए और थोड़े-थोड़े अंतराल पर पानी पीते रहना चाहिए. आइए जानते हैं इस मौसम में कैसा हो खानपान और किस तरह रखें खुद को फिट ।

गर्मी के मौसम में खूब पीएं पानी ।

गर्मियों के मौसम पानी खूब पीना चाहिए क्योंकि गर्मियों में हमारे शरीर से पसीना निकलता है जिससे डिहाईड्रेशन होने का खतरा रहता है. सुबह उठकर सबसे पहले एक से डेढ गिलास पानी पिएं. दिनभर कोशिश करें कि ज्यादा से ज्यादा पानी पिएं. अगर एक साथ न पीं पाए तो थोड़ी-थोड़ी देर में पानी पिएं. इससे शरीर से सारी गंदगी बाहर निकल जाती है और पाचन क्रिया भी ठीक रहती है.

हमेशा फ्रेश खाना खाएं ।

गर्मियों में कभी भी बासी भोजन नहीं खाना चाहिए. हमेशा ताजा भोजन ही खाएं. इस मौसम में सब्जी-दालें जल्दी खराब हो जाती हैं. इसके अलावा गर्मियों में सुपाच्य भोजन ही करना चाहिए. ज्यादा गरिष्ठ भोजन इस मौसम में नुकसानदेह हो सकता है. गर्मियों में फूड पॉयजनिंग होने का ख़तरा ज्यादा होता है. इसलिए फ्रेश खाना ही खाएं.

सेलेड और स्प्राउट जरूर खाएं ।

गर्मी के मौसम जितना ज्यादा फाइबर खाएंगे उतना आपकी हेल्थ के लिए अच्छा होता हैं. खाने में सलाद या स्प्राउट्स ज़रुर खाएं, इससे मांसपेशियां मजबूत होती हैं और पेट की समस्यां भी नहीं होती है.

ज्यादा देर तक खाली पेट न रहें ।

गर्मियों में ज्यादा देर तक खाली पेट रहने से शरीर में पौष्टिक तत्वों की कमी हो जाती हैं. जिससे कमजोरी के साथ-साथ कई बीमारियां होने का डर रहता है. इसलिए सुबह जल्दी खाना खाने की कोशिश करनी चाहिए. इस बात का हमेशा ध्यान रखें कि कभी एक साथ ज्यादा खाना सेहत के लिए नुकसानदायक है. इसलिए हर दो घंटे पर थोड़ा-थोड़ा खाना चाहिए.

मौसमी फल और सब्जियों का सेवन करें गर्मी में मौसमी फलों और सब्जियों का सेवन करने से शरीर चुस्त और तरोताजा रहता है. इसलिए तरबूज, खरबूजा, खीरा, ककड़ी, फालसा, अनानास, मौसम्बी व लीची खाना फायदेमंद है. इससे शरीर में पानी की कमी नहीं होगी. इसके अलावा लौकी, तोरई, भिंडी, टिंडे जैसी हरी सब्जियों खाना चाहिए. इससे गर्मियों में स्वस्थ रहने के लिए जरूरी पोषक तत्वों की भी पूर्ति हो जाती है.

कॉफी और चाय से रहें दूर

चाय-कॉफी का सेवन कम करें. कैफीन से शरीर में डिहाइड्रेशन बढ़ता है. इसके बजाय जूस, दही, लस्सी, मट्ठा, सत्तू, नींबू पानी, आम पना, बेल शर्बत, नारियल पानी, गन्ने का रस आदि को अपनी डाइट में शामिल करें.

ठंडा पानी पीने से बचें ।

गर्मियों में जितना हो सके नॉर्मल पानी पीने की कोशिश करें. फ्रिज़ के पानी की जगह घड़े या सुराही का पानी पीजिएं. गर्मी में लू से बचने के लिए भी नॉर्मल पानी पीना चाहिए. ठंडा पानी पीने से वजन बढ़ने का भी डर रहता है. योगा या एक्सरसाइज करना न भूलें गर्मी में खान पान के अलावा एक्सरसाइज या योगा भी जरूरी है. अगर आपके पास एक्सरसाइज या योगा करने का समय नहीं है तो सुबह शाम टहलना न भूलें.

हिंदी  में Blogging के 12 फायदे  | Blogging ke Kya fayde hain?

01
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments

href="https://www.thegoldenmart.com/classified">which is the best electric car in india 2021 on पेपर प्लेट बनाने का बिजनेस कैसे शुरु करें।