Home Information एलपीजी (LPG) का फुल फॉर्म क्या है - LPG full form in...

एलपीजी (LPG) का फुल फॉर्म क्या है – LPG full form in Hindi

एलपीजी (LPG) का फुल फॉर्म क्या है – LPG full form in Hindi

दोस्तों आज हम इस लेख में जानेंगे एलपीजी (LPG) का फुल फॉर्म क्या है – LPG full form in हिंदी। lpg full form in hindi ,  तो आइये जानते हैं ।

lpg full form in hindi

LPG का मतलब तरलीकृत पेट्रोलियम गैस (LPG) है। और अंग्रेजी में Liquefied Petroleum Gas है ।

प्रोपेन और ब्यूटेन वाले घटक ज्वलनशील हाइड्रोकार्बन ईंधन गैस हैं। LPG ज्वलनशील हाइड्रोकार्बन गैसों का मिश्रण है। जिसमें तीन एलपीजी गैसों का मिश्रण होता है। जैसे प्रोपेन, ब्यूटेन, आइसोब्यूटेन।

 

घरेलू गैस LPG के रूप में अधिक लोकप्रिय है। यह वस्तुतः कई हाइड्रोकार्बन गैसों का मिश्रण है। इसका उपयोग खाना पकाने, हीटिंग उपकरणों और कुछ वाहनों में ईंधन के रूप में किया जाता है। आजकल इसका उपयोग क्लोरोफ्लोरोकार्बन की जगह रेफ्रिजरेंट के रूप में अधिक किया जाता है। ऐसा इसलिए है क्योंकि यह ओजोन परत को कोई नुकसान नहीं पहुंचाता है।

 

एलपीजी गैस तेल और गैस के कुओं से आती है, क्योंकि ये सभी जीवाश्म ईंधन हैं। एलपीजी गैस उत्पादन प्रक्रियाओं में प्राकृतिक गैस प्रसंस्करण और कच्चे तेल रिफाइनरी प्रसंस्करण शामिल हैं।

 

LPG दबाव के माध्यम से तरलीकृत, प्राकृतिक गैस प्रसंस्करण और तेल शोधन से आता है।

विभिन्न देशों में आपूर्ति किए जाने वाले एलपीजी हीटिंग ईंधन में प्रोपेन, ब्यूटेन या प्रोपेन-ब्यूटेन मिश्रण हो सकता है।

एलपीजी कहां से आती है?

एलपीजी गैस तेल और गैस के कुओं की ड्रिलिंग से आती है। यह एक fossil ईंधन है। एलपीजी उत्पाद स्वाभाविक रूप से अन्य हाइड्रोकार्बन ईंधन के संयोजन में पाए जाते हैं। खासकर कच्चे तेल और प्राकृतिक गैस।

 

प्राकृतिक गैस शोधन के दौरान और तेल शोधन के दौरान एलपीजी का उत्पादन होता है।

कच्चे तेल को रिफाइनरी कारखाने में लाकर गर्म करने के बाद उसमें से एलपीजी को अलग किया जाता है।

नए एलपीजी कनेक्शन के लिए ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया (एलपीजी ऑनलाइन बुकिंग)

1) सबसे पहले आप जिस भी गैस सेवा के लिए एलपीजी कनेक्शन चाहते हैं उसकी संबंधित वेबसाइट पर जाएं।

 

2) गैस सर्विस वेबसाइट के पेज पर आपको नए ग्राहकों के लिए एलपीजी कनेक्शन या रजिस्टर का विकल्प दिखाई देगा।

 

3) इसके बाद आपको स्क्रीन पर कनेक्शन के लिए एक ऑनलाइन फॉर्म दिखाई देगा।

 

4) इस फॉर्म में आपकी जानकारी, राज्य, शहर का नाम, पता, नजदीकी वितरक की जानकारी भी पूछी जाएगी। उस जानकारी को ठीक से भरें।

 

4) आपको इस फॉर्म के साथ अपना आईडी प्रूफ, एड्रेस प्रूफ और फोटो अटैच करना होगा।

जैसे कि,

*आधार कार्ड

*पासपोर्ट

* पैन कार्ड

* ड्राइविंग लाइसेंस

 

5) जैसे ही आप फॉर्म को पूरा करेंगे, आपको एक कन्फर्मेशन मैसेज और मेल मिलेगा। यह संदेश एक संदेश होगा कि आपका फॉर्म पूरा हो गया है।

 

6) तो उसी स्क्रीन पर आप अपना एप्लीकेशन नंबर देख सकते हैं।

 

7) उसके बाद भरे हुए फॉर्म का प्रिंट आउट ले लें।

 

8) आवेदन की मंजूरी के बाद, आपको वितरक को आईडी वितरक, पते के प्रमाण की प्रति और फोटो के साथ फॉर्म लेना होगा।

 

9) कनेक्शन के आधार पर आपको कुछ राशि का भुगतान करना होगा और सभी कागजी कार्रवाई के बाद एलपीजी गैस सिलेंडर आपको पहुंचा दिया जाएगा।

 

एलपीजी गैस सब्सिडी कैसे चेक करें। (एलपीजी गैस सब्सिडी)

1) सबसे पहले Mylpg.in वेबसाइट पर जाएं।

 

2) वेबसाइट के होम पेज पर तीन एलपीजी सिलेंडर कंपनियों का एक टैब (फोटो के साथ) होगा।

 

3) अपनी कंपनी (जिसके पास एक सिलेंडर है) का चयन करना आवश्यक है।

 

4) अगर भारतीय गैस का सिलेंडर है तो उस टैब पर क्लिक करें।

 

5) सब्सिडी मिली है या नहीं यह जांचने के लिए एक नया इंटरफेस खुलेगा।

 

6) इसके बार मेन्यू में जाएं और ‘अपनी प्रतिक्रिया ऑनलाइन दें’ पर क्लिक करें।

 

7) फिर अपना मोबाइल नंबर, एलपीजी उपभोक्ता आईडी, राज्य का नाम, वितरक की जानकारी भरें।

 

8) इसके बाद फीडबैक टाइप पर क्लिक करें।

 

9) ‘शिकायत’ विकल्प को हटा दें और ‘अगला’ बटन पर क्लिक करें।

 

10) आपकी बैंक जानकारी नए इंटरफ़ेस में दिखाई देगी। इससे पता चलेगा कि खाते में सब्सिडी की राशि आई है या नहीं।

 

एलपीजी सिलेंडर की नई कीमत (गैस सिलेंडर की आज की कीमत) – कीमत / 14.2 किलो

 

अपने शहर में वर्तमान दरों का पता लगाएं नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें।

https://cx.indianoil.in/webcenter/portal/Customer/pages_productprice

महत्वपूर्ण सूचना: –

* अगर आपने सरकारी गैस कनेक्शन लिया है तो साल में छह सिलेंडर पर सब्सिडी मिलती है। इससे ज्यादा सिलेंडर लेने पर आपकी नियमित फीस ली जाएगी।

 

* घर के लिए केवल एक ही एलपीजी कनेक्शन का नियम है, इसलिए यदि आप नए कनेक्शन के लिए आवेदन कर रहे हैं तो पुराने कनेक्शन को बंद कर दें।

 

*सिलेंडर लेते समय हमेशा सिलिंडर की सील और सेफ्टी कैप की जांच करें।

 

सेफ्टी कैप हटा दें और जांच लें कि कहीं वॉल्व से तो कोई लीकेज तो नहीं है।

 

रसोई गैस सिलेंडर का वजन क्या है (एलपीजी सिलेंडर वजन)

 

गैस सिलेंडर का वजन 15 किलो से लेकर 17 किलो तक होता है। यह प्रत्येक सिलेंडर के शीर्ष पर लिखा होता है। यह खरोंच से भी लिखा जाता है।

 

जिसमें 14 किलो 200 ग्राम एलपीजी गैस भरी जाती है। अगर एक खाली सिलेंडर का वजन 16 किलो है तो आपके भरे हुए सिलेंडर का वजन 30 किलो 200 ग्राम होगा।

 

और अगर सिलेंडर का वजन इससे कम है तो इसकी सूचना तौल विभाग को दें। इसके अलावा ग्राहक सादे कागज पर आवेदन कर फोरम में शिकायत भी दर्ज करा सकते हैं।

#हेल्पलाइन नंबर

ग्राहकों के लिए अपनी शिकायत/प्रश्न दर्ज करने के लिए सुविधाजनक, आसान टोल फ्री नंबर 18002333555।

अधिक जानकारी के लिए महतीलेक आते रहें। फिर मिलेंगे नई जानकारी के साथ। शुक्रिया।

नोट : अगर आपके पास कोई Hindi Story, Life Story of a Personality, या फिर कोई motivational या inspirational article है जो हमारे जीवन को किसी भी तरीके से बेहतर बनाता हो तो कृपया हमारे साथ शेयर करें।  आपका लेख आपके फोटो के साथ पोस्ट किया जायेगा।  आपको पूरा क्रेडिट दिया जायेगा।  हमारा ईमेल है : drayazinfo@gmail.com

यह भी पढ़ें :


ऐसे निकाल सकते हैं Jio सिम की Call और मैसेज डिटेल WhatsApp से COVID-19 Vaccination Certificate कैसे डाउनलोड करें ।
WhatsApp से COVID-19 Vaccination Certificate कैसे डाउनलोड करें ।
सैमसंग कंपनी का मालिक कौन है?
CBSE Full Form in Hindi | सीबीएसई बोर्ड की जानकारी |
रणवीर सिंह जीवनी | Ranveer Singh Biography in Hindi
एलपीजी फुल फॉर्म   
01
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments

href="https://www.thegoldenmart.com/classified">which is the best electric car in india 2021 on पेपर प्लेट बनाने का बिजनेस कैसे शुरु करें।